Aside

Beggar Joke in Hindi, Saas Bahu Joke

मालकिन को बाहर से चिल्लाने की आवाज़ आई ,

मालकिन – बहु कौन है बाहर,

बहु – माँ जी भिखारी था ,
मैंने भगा दिया ,

मालकिन गुस्से में – अरे कलमुँही मुझसे बिना पूछे भिखारी को भगा दिया ,
उसे जल्दी वापस बुला ,
बहु से जैसे ही भिखारी को बुलाया ,
भिखारी ख़ुशी से भगा हुआ वापस आया ,

मालकिन – सुन रे भिखारी इस घर की मालकिन मैं हूँ ,
ख़बरदार जो फिर से भीख माँगने आया ,
भाग यहाँ से

Aside

Saas Bahu Yoga Jokes

एक औरत बार बार घर के बाहर आती,
फिर अंदर जाती,
बार बार अंदर बाहर आ रही थी,

पड़ोसी- माताजी ये क्या कर रहीं हैं?

औरत- मेरी बहु टीवी पे Yoga करना
सीख रही है, उसमें बोल रहे हैं कि
सास अंदर करो, सास बाहर करो
पडोसी बेहोश 😉 😉

Newly Married Bahu Beta Joke

पति (सुहागरात पे) – मेरी बाहों मे अाओ प्रिय

पत्नी – नही डर सा लगता है
अचानक सास अा गयी

सास – दरवाजा खोल बेटा

पत्नी – अभी मत खोलना मैं पलंग के नीचे छिप जाती हूँ

पति – छुप क्यूँ रही हो मम्मी ही तो है

पत्नी –
.
.
.
.
ओह! मैंने सोचा छापा पड़ गया :) :)

saas bahu se paresan jokes

Ek Saas Apni Bahu Se Bahut Pareshaan Thi Kyunki Vo Koi Kaam Nahin Karti Thi.

Ek Din Tang Aakar Saas Apne Bete Se Kahti Hai Ki Kal Subah Mein Ghar Mein Jhaadu Lagungi Aur Tum Mujhe Rokna Aur Kehne Ki Lao Maa Main Kar Deta Hoon. Is Tarah Bahu Ko Kuch Toh Sharam Aayegi!!!

Subah Jaise Hi Saas Jhaadu Lagane Lagti Hai Toh Uska Beta Aa Jaata Hai Aur Kehta Hai: Lao Maa, Main Kar Deta Hoon.

Maa: Rehney Do Beta, Main Laga Lungi.

Beta: Rehne Bhi Do Na Maa, Aapse Ab Kaam Nahin Ho Paata Hai, Lao Mein Laga Dunga.

Yah Sab Sunkar Bahu Aa Jaati Hai Aur Kehti Hai: Arey Ismein Ladne Ki Kya Zaroorat hai, Ek Din Maa Lagayegi, Ek Din Tum Laga Lena… Baari Baari Se Kar Lo…

सिलसिला खत्म कर दूँगी – Saas Bahu Hindi Joke

एक सयानी सास ने नई-नई आई बहू से पूछा – “बहू, मान लो अगर तुम पलंग पर बैठी हो और मैं भी उस पर आकर बैठ जाऊं तो तुम क्या करोगी ?”

बहू – “तो मैं उठकर सोफे पर बैठ जाऊंगी.”

सास – “और अगर मैं भी आकर सोफे पर बैठ जाऊं तो क्या करोगी ?”

बहू – “तो मैं फर्श पर चटाई बिछाकर बैठ जाऊंगी.”

सास – “और अगर मैं भी चटाई पर आ जाऊं तो फिर क्या करोगी ?”

बहू – “तो मैं जमीन पर बैठ जाऊंगी.”

सास मजे लेते हुए आगे बोली – “और मैं जमीन पर भी तुम्हारे बगल में बैठ गई तो क्या करोगी ?”

बहू (खीझ कर ) – “तो मैं जमीन में गड्ढा खोद कर उसमें बैठ जाऊंगी.”

सास – “और अगर मैं गड्ढे में भी आकर बैठ  गई तो ?”

बहू – “तो मैं ऊपर से मिट्टी डालकर सिलसिला  खत्म कर दूँगी … !!!”